एमपी बोर्ड कक्षा 12वीं की परीक्षाएं होना लगभग तय जिला स्तर पर विशेषज्ञ पैनल बनाने का आदेश जारी 



मध्य प्रदेश स्कूल शिक्षा विभाग डीपीआई भोपाल द्वारा इस संबंध में बच्चों की कठिनाइयों को दूर करने के लिए जिला स्तर पर विषय विशेषज्ञों का पैनल बनाया जाना इस ओर संकेत देता है कि कक्षा बारहवीं के विद्यार्थियों की परीक्षा ली जाएगी लेकिन अभी यह तय नहीं है कि यह परीक्षा ऑफलाइन होगी या ऑनलाइन।


जून माह में सब कुछ ठीक रहा तो ऑफलाइन होगी परीक्षा

विश्वस्त सूत्रों की माने तो स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जहां जून माह में कक्षा 12वीं एमपी बोर्ड के परीक्षा प्रस्तावित की गई है यदि जून माह तक कोरोना संक्रमण का प्रभाव कम हो जाता है तो परीक्षाएं ऑफलाइन मोड में पारंपरिक पद्धति से ली जा सकेगी लेकिन यदि कोरोना का बढ़ता हुआ संक्रमण जून माह में भी कम नहीं होता है तो संभवतः परीक्षाओं को और आगे बढ़ाया जा सकता है या फिर ऑनलाइन मोड में परीक्षाएं संपन्न करवाई जा सकती है। लेकिन चाहे ऑनलाइन हो या ऑफलाइन कक्षा 12वीं की परीक्षाएं होना अब तय माना जा रहा है। इस संबंध में विशेषज्ञों का तर्क यह है कि कक्षा बारहवीं के पश्चात विद्यार्थी विभिन्न ने यूनिवर्सिटी एवं अलग-अलग कोर्स में प्रवेश लेते हैं । जहां पर कक्षा 12वीं का परीक्षा परिणाम देखा जाता है। ऐसी स्थिति में कक्षा बारहवीं की परीक्षाएं दिया जाना नितांत आवश्यक है चुकी सीबीएसई सहित अन्य बोर्ड ने भी कक्षा 12वीं की परीक्षा अभी तक निरस्त नहीं की है इसके पीछे यही बड़ी वजह देखी जा सकती है।

एमपी बोर्ड से संबंधित जानकारियां अपने व्हाट्सएप नंबर पर प्राप्त करने के लिए एमपी बोर्ड लिखकर 

+917247520304 व्हाट्सएप नंबर पर मैसेज सेंड करें