प्रदेश में 12 वीं अब 85 फीसदी अंक लाने वाले विद्यार्थियों को ही 25 हजार मिलेंगे, 75% अंक वाले बाहर


 www.newsjobmp.com--मप्र माध्यमिक शिक्षा मंडल की 85 फीसदी से अधिक अंकों से बारहवीं परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थियों को लैपटाप के लिए पच्चीस - पच्चीस हजार रुपए की राशि मिलेगी । स्कूल शिक्षा विभाग ने राशि देने की तैयारी शुरू कर दी है । ऐसे विद्यार्थियों की संख्या करीब 16 हजार है । सरकार पूर्व की तुलना में राशि देने में करीब 160 करोड़ बचाएगी । जानकारी के मुताबिक बीती 26 जुलाई को मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने एमपी बोर्ड के 12 वीं कक्षा के मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप प्रदाय को योजना पुनः प्रारंभ करने की घोषणा की थी । इसके अंतर्गत सरकार द्वारा मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप खरीदने के लिए 25 हजार रुपए , को प्रोत्साहन राशि दी जाएगी । मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल मप्र द्वारा आयोजित 12 वीं को मुख्य परीक्षा में उत्कृष्टता प्रदर्शित करने वाले विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा । योजना का लाभ नियमित एवं स्वाध्यायी दोनों प्रकार के विद्यार्थियों को दिया जाएगा । इससे कयास लगाए जा रहे थे कि योजना का लाभ कितने प्रतिशत अंक के आधार पर दिया जाएगा । अब साफ हो गया है कि विभाग द्वारा योजना का लाभ 85 फीसदी या उससे अधिक अंक वाले विद्यार्थियों को दिया जा रहा है । ऐसे विद्यार्थियों की संख्या प्रदेश में करीब सोलह हजार है । आठ साल पहले शुरू हुई थी लैपटाप वितरण की योजना आठ साल पहले मुख्यमंत्री मेघावी प्रोत्साहन योजना के तहत बारहवीं में 85 या उससे अधिक प्रतिशत अंक लाने वाले विद्यार्थियों के लिए सरकार ने लैपटाप वितरण योजना शुरू की थी । योजना के प्रारंभ में विद्यार्थियों की संख्या दो हजार के आसपास होती थी । इस समय तक विद्यार्थियों को लैपटाप के लिए पच्चीस - पच्चीस हजार रुपए की राशि खरीदने के लिए दी जाती है|


वहीं प्रदेश के विद्यार्थियों को 75% अंकों में लैपटॉप न मिलने पर स्वाभाविक है इसका विरोध भी प्रारंभ होगा,

वहीं दूसरी तरफ पिछले शैक्षणिक सत्र में 12वीं में 75% से अधिक अंक प्राप्त विद्यार्थियों को किसी भी प्रकार की  राशि प्राप्त नहीं हुई है पिछले वर्ष 75% से अधिक अंक प्राप्त छात्र-छात्राएं लगातार इसकी मांग कर रहे हैं कि वर्तमान शैक्षणिक सत्र में हम लोगों को भी शामिल कर के  मेधावी योजना की पात्रता में शामिल किया जाए|


यदि आप अपनी कोई न्यूज़, प्रदेश के युवा हित में कोई विचार लेख या समस्या निकलवाना चाहते हैं तो आप newsjobmp@gmail.com पर लिख कर भेज सकते हैं



ऐसी ही अन्य जानकारियां अपने व्हाट्सएप नंबर पर प्राप्त करने के लिए यहां क्लिक करें


English translate by system


Only students who get 85% marks in 12th class will get 25 thousand, out of 75% marks

 www.newsjobmp.com-- Students who pass the twelfth examination with more than 85 per cent marks of Madhya Pradesh Board of Secondary Education will get an amount of twenty five - twenty five thousand rupees for the laptop.  School Education Department has started preparing to give the amount.  The number of such students is about 16 thousand.  The government will save about 160 crores in giving amount compared to the previous.  According to the information, on July 26, Chief Minister Shivraj Singh Chauhan announced to restart the scheme to supply laptops to meritorious students of class 12 of MP Board.  Under this, the government will give 25 thousand rupees to the meritorious students for purchasing laptops.  Chief Minister Chouhan said that the benefit of this scheme will be given to the students who have excelled in the main examination on the 12th conducted by Madhya Pradesh Board of Secondary Education for the academic session 2019-20.  The benefit of the scheme will be given to both regular and self-taught students.  From this, speculations were being made on the basis of what percentage of the benefit of the scheme would be given.  It is now clear that the benefit of the scheme is being given by the department to the students with 85 percent or more marks.  The number of such students is about sixteen thousand in the state.  The scheme for laptop distribution started eight years ago, under the Mukhyamantri Meghavi Protsahan Yojana eight years ago, the government launched the laptop distribution scheme for students who scored 85 or more percentage marks in class XII.  At the beginning of the plan, the number of students was around two thousand.  By this time, students are given twenty-five-five thousand rupees to buy for the laptop.



 On the other hand, if the students of the state do not get laptops in 75% marks, then opposition to this is also going to start,


 On the other hand, in the last academic session, students who have scored more than 75% in the 12th have not received any kind of amount. Last year, the students who have secured more than 75% marks are constantly demanding that in the current academic session we  Should also be included in the eligibility of meritorious scheme.