इंदौर में 237 करोड़ रूपये से अधिक लागत के सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण

 कोरोना इलाज में मनमानी फीस लेने पर प्रायवेट अस्पतालों के विरूद्ध होगी कार्यवाही - मुख्यमंत्री श्री चौहान



मुख्यमंत्री  ने आज चिकित्सा के क्षेत्र में एक बड़ी सौगात दी है। उन्होंने इंदौर में 237 करोड़ रूपये से अधिक की लागत से निर्मित आधुनिक चिकित्सा सुविधाओं से युक्त सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण किया। यह अस्पताल 10 मंजिला है और इसमें अत्याधुनिक चिकित्सा सुविधाएं रहेंगी। कार्यक्रम में केन्द्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. हर्षवर्धन तथा केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे नई दिल्ली से तथा चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री विश्वास सारंग भोपाल से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यक्रम में शामिल हुये। कार्यक्रम में पूर्व मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय, जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, पर्यटन मंत्री सुश्री उषा ठाकुर तथा सांसद श्री शंकर लालवानी विशेष रूप से मौजूद थे।

नवनिर्मित इस अस्पताल में न्यूरोलॉजी, न्यूरोसर्जरी, नेफ्रोलॉजी, यूरोसर्जरी, कार्डियोलॉजी, कार्डियेक सर्जरी, मेडिकल गेस्ट्रोएन्ट्रोलॉजी, सर्जीकल गेस्ट्रोएन्ट्रोलॉजी, प्लास्टिक एवं रिकन्सट्रक्टीव सर्जरी तथा आर्गन ट्रान्सप्लांट की सुविधा रहेगी। यह अस्पताल 402 बिस्तरों का है। इसमें मुख्य रूप से जनरल वार्ड में 208 बिस्तर रहेंगे। शेष बिस्तर आईसीयू, आपातकालीन, प्रायवेट एवं सेमी प्रायवेट आदि वार्ड में भी रहेंगे।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि मध्यप्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं का तेजी से विस्तार किया जा रहा है। इसके लिये केन्द्र शासन का भी भरपूर सहयोग मिल रहा है। प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के संकल्प को पूरा करने की दिशा में हर संभव प्रयास किये जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कोविड से निपटने के लिये सभी संभव प्रयास किये जा रहे हैं। जिस दिन से मैंने मुख्यमंत्री का पुन: पद संभाला, उसी दिन से मैंने कोरोना से निपटने के प्रयास शुरू कर दिये। इसके पहले न तो कोई तैयारी और न ही कोई व्यवस्था थी। कोरोना की अनदेखी की जा रही थी। पद संभालते ही स्थिति की समीक्षा की गई और कोरोना से निपटने के लिये प्रभावी कदम उठाये गये। उन्होंने कहा कि पहले जहाँ कोरोना के लिये बिस्तरों की संख्या बहुत ही कम थी,उसे बढ़ाकर अब पर्याप्त की गई है। सेम्पलों की जाँच की क्षमता भी जहां पहले दहाई अंक में थी, उसे बढ़ाकर अब 2400 जाँच प्रतिदिन करने की क्षमता हो गई है। उन्होंने कहा कि कोरोना ने हमें जीने का नया तरीका सिखाया है। कोरोना से निपटने के लिये सुरक्षा,सावधानी रखना एवं एहतियात बरतना जरूरी है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि प्रदेश में कोरोना का नि:शुल्क इलाज कराया जा रहा है। आर्थिक रूप से सक्षम ऐसे लोग जो प्रायवेट अस्पतालों में अपना कोरोना का इलाज कराना चाहते हैं, इसके लिये प्रायवेट अस्पतालों को अनुमति दी गई है। अगर कोई अस्पताल मनमानी फीस एवं चार्ज ले रहे हैं तो उनके विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने युक्तिसंगत फीस निर्धारण के लिये जिला प्रशासन को बैठक लेकर आगामी कार्यवाही करने के निर्देश दिये। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वच्छता में लगातार चार बार अव्वल आने पर बधाई दी और कहा कि सभी संबंधितों का सम्मान किया जायेगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के निर्माण में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन के योगदान का स्मरण किया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने संभागायुक्त डॉ. शर्मा, कलेक्टर श्री मनीष सिंह, आईजी, डीआईजी सहित चिकित्सकों, नर्स, अन्य स्टाफ और शहरवासियों द्वारा कोरोना के नियंत्रण के लिये किये गये कार्यों की सराहना की।

वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल निर्माण के लिये शुभकामनाएं दी और इस अस्पताल के निर्माण में लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन की भूमिका का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश में स्वास्थ्य सुविधाओं के विकास के लिये संवेदनशील होकर कार्य किये जा रहे हैं। प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा कार्यक्रम का प्रभावी क्रियान्वयन हो रहा है। उन्होंने कहा कि चिकित्सा शिक्षा के विस्तार के लिये मध्यप्रदेश में 14 नये मेडिकल कॉलेज खोले जा रहे हैं। कोरोना से निपटने के लिये भी मध्यप्रदेश को पूरी सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि देश को आगामी 2025 तक क्षय रोग से मुक्त करने के कार्य होंगे। उन्होंने स्वच्छता के क्षेत्र में चौथी बार इंदौर के अव्वल आने पर बधाई दी और कहा कि यह अन्य शहरों के लिये प्रेरणा होगा।  

केन्द्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री श्री अश्विनी कुमार चौबे ने वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से सम्बोधित करते हुये कहा कि चिकित्सा के क्षेत्र में मध्यप्रदेश द्वारा उल्लेखनीय कार्य किये जा रहे है। सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का निर्माण प्रधानमंत्री श्री मोदी के संकल्पों को पूरा करने की दिशा में बड़ा कदम है। कोरोना की महामारी के नियंत्रण के संबंध में कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिये प्रभावी कार्य हुये है। प्रधानमंत्री श्री मोदी के नेतृत्व में देश ने विश्व में नयी दिशा दिखाई है। कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण हुआ है। उन्होंने लोकसभा की पूर्व अध्यक्ष श्रीमती सुमित्रा महाजन द्वारा इंदौर तथा प्रदेश के विकास के लिये दिये गये अहम योगदान एवं भूमिका का स्मरण किया।

  पूर्व मंत्री श्री कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि मुख्यमंत्री श्री चौहान के मार्गदर्शन में हो रहे कार्यों से इंदौर ही नहीं पूरा प्रदेश कोरोना जैसे संकट से तेजी से उबर रहा है। नागरिकों, चिकित्सकों, स्वास्थ्य कर्मियों, समाजिक संगठनों आदि की भी महत्वपूवर्ण भूमिका रही है। रेकार्ड समय में सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल का निर्माण हुआ है, इसके लिये उन्होंने सभी संबंधितों की प्रशंसा की और कहा कि यह इंदौर के लिये बड़ी उपलब्धि है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में विकास की नयी इबारत लिखी जा रही है। विकास का यह सिलसिला निरंतर जारी रहेगा। देश को आत्मनिर्भर और सशक्त बनाया जा रहा है।

जल संसाधन मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने कहा कि प्रदेश में कोरोना की वैश्विक महामारी के नियंत्रण के लिये उत्कृष्ट कार्य किये गये हैं। इंदौर शिक्षा के साथ ही अब स्वास्थ्य का भी बड़ा हब बन गया है। उन्होंने कहा कि इंदौर में इस अस्पताल को आदर्श अस्पताल के रूप में विकसित किया जाना चाहिये।

सांसद श्री शंकर लालवानी ने कहा कि इंदौर के लिये आज गौरव का दिन है जब सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण हो रहा है। यह इंदौर के लिये बड़ी उपलब्धि है। मुख्यमंत्री के नेतृत्व में कोरोना से निपटने के लिये उल्लेखनीय कार्य किये गये। उन्होंने एमवाय अस्पताल के उन्नयन की जरूरत बतायी। उन्होंने कहा कि इंदौर में चिकित्सा शिक्षा के क्षेत्र में पोस्ट ग्रेजुएशन इंस्टिट्यूट पीजीआई की आवश्यकता है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने फीता काटकर सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल का लोकार्पण किया। इसके पश्चात उन्होंने अस्पताल का अवलोकन भी किया। उन्होंने हॉस्पिटल में उपलब्ध कराई जाने वाले चिकित्सा सुविधाओं की जानकारी भी ली।

अतिथियों द्वारा कार्यक्रम में सीरो सर्वेक्षण रिपोर्ट का विमोचन किया गया। आयुक्त इंदौर संभाग डॉ. पवन कुमार शर्मा ने सीरो सर्वे रिपार्ट का प्रस्तुतिकरण दिया। डॉ. शर्मा ने बताया कि इंदौर शहर में 11 अगस्त से 23 अगस्त तक सीरो सर्वेक्षण कराया गया। इस सर्वेक्षण में इंदौर शहर के सभी 85 वार्डों में रेण्डम आधार पर 7 हजार 103 सेम्पल लिये गये। सेम्पलों की जाँच की गई। इसके आधार पर रिपोर्ट प्राप्त हुई है। शहर में 7.72 प्रतिशत एण्टीबॉडी होना पाया गया। इससे पता चलता है कि इंदौर में कंट्रोल रेट अच्छा है। आगे और अधिक सतर्कता और सुरक्षा रखने की जरूरत है। विधायक श्री आकाश विजयवर्गीय ने प्रारंभ में स्वागत उद्बोधन दिया।

कार्यक्रम में आयुक्त चिकित्सा शिक्षा श्री निशांत वरवड़े ने परियोजना का परिचय एवं विवरण दिया। कार्यक्रम के अंत में एमजीएम मेडिकल कॉलेज की डीन डॉ. ज्योति बिंदल ने आभार माना। कार्यक्रम में विधायकगण श्री महेन्द्र हार्डिया, श्रीमती मालिनी गौड़, श्री रमेश मेंदोला, श्री कृष्णमुरारी मोघे, श्री गौरव रणदीवे, श्री राजेश सोनकर, श्री सुदर्शन गुप्ता, श्री मधु वर्मा सहित अन्य जनप्रतिनिधि और अन्य वरिष्ठ नागरिकगण मौजूद थे।

Super specialty hospital in Indore costing more than Rs 237 crore inaugurated

  Action will be taken against private hospitals for taking arbitrary fees in corona treatment - Chief Minister Shri Chouhan

 Chief Minister Shri Shivraj Singh Chouhan has given a big gift in the field of medicine today. He inaugurated a super specialty hospital with modern medical facilities built at a cost of over Rs 237 crore in Indore. The hospital is 10-storey and will have state-of-the-art medical facilities. Union Health and Family Welfare Minister Dr. Harsh Vardhan and Union Minister of State for Health Mr. Ashwini Kumar Choubey attended the program through video conferencing from New Delhi and Medical Education Minister Mr. Vishwas Sarang Bhopal. Former Minister Shri Kailash Vijayvargiya, Water Resources Minister Shri Tulsiram Silavat, Tourism Minister Ms. Usha Thakur and MP Shri Shankar Lalwani were specially present in the program.

 The newly constructed hospital will have facilities for Neurology, Neurosurgery, Nephrology, Eurosurgery, Cardiology, Cardiac Surgery, Medical Gastroenterology, Surgical Gastroentrology, Plastic & Reconstructive Surgery and Argon Transplant. This hospital is of 402 beds. There will be 208 beds mainly in the General Ward. Remaining beds will also be in ICU, emergency, private and semi private etc. wards.

 Addressing the program, Chief Minister Shri Shivraj Singh Chouhan said that health facilities are being expanded rapidly in Madhya Pradesh. Central government is also getting full support for this. Every effort is being made to fulfill the resolve of Prime Minister Shri Narendra Modi. He said that all possible efforts are being made to deal with Kovid. From the day I assumed the post of Chief Minister again, I started efforts to deal with Corona. Before this there was neither any preparation nor any system. Corona was being ignored. The situation was reviewed as soon as it took office and effective steps were taken to deal with Corona. He said that earlier where the number of beds for corona was very small, it has been increased enough. The capacity of testing samples has also been increased to 2400 tests per day, where it was earlier in the double digits. He said that Corona has taught us a new way of living. Safety, caution and precautions are necessary to deal with the corona.

 Chief Minister Shri Chouhan said that free treatment of corona is being done in the state. Financially competent people who want to get their corona treatment in private hospitals, private hospitals have been allowed for this. If any hospitals are taking arbitrary fees and charges, action will be taken against them. He instructed the district administration to take a meeting and take further action for the determination of reasonable fees. Chief Minister Shri Chouhan congratulated the cleanliness for four consecutive times and said that all concerned will be respected. Chief Minister Shri Chouhan recalled the contribution of former Lok Sabha Speaker Smt Sumitra Mahajan in the construction of Super Specialty Hospital. Chief Minister Shri Chouhan appreciated the work done by Divisional Commissioner Dr. Sharma, Collector Shri Manish Singh, IG, DIG including doctors, nurses, other staff and residents of the city for control of corona.

 Addressing the program through video conferencing, Union Health Minister Dr. Harsh Vardhan extended best wishes for the construction of Super Specialty Hospital and mentioned the role of former Speaker of Lok Sabha, Mrs. Sumitra Mahajan in the construction of this hospital. He said that works are being done in Madhya Pradesh for development of health facilities. The Prime Minister National Health Protection Program is being implemented effectively. He said that 14 new medical colleges are being opened in Madhya Pradesh to expand medical education. Madhya Pradesh is also being given full assistance to deal with Corona. He said that there will be works to free the country from tuberculosis by 2025. He congratulated Indore for the fourth time in the field of cleanliness and said that it will be an inspiration for other cities.

 Addressing through video conferencing, Union Minister of State for Health Shri Ashwini Kumar Choubey said that Madhya Pradesh is doing remarkable work in the field of medicine. The construction of Super Specialty Hospital is a major step towards fulfilling the resolutions of Prime Minister Shri Modi. In connection with the control of the corona epidemic, effective works have been done to break the chain of corona infection. The country has shown a new direction in the world under the leadership of Prime Minister Shri Modi. Corona has been effectively controlled. He recalled the important contribution and role given by former Speaker of Lok Sabha, Mrs. Sumitra Mahajan for the development of Indore and the state.

   Former Minister Kailash Vijayvargiya said that not only Indore, the entire state is recovering from the crisis like Corona due to the work being done under the guidance of Chief Minister Shri Chouhan. Citizens, doctors, health workers, social organizations etc. have also played an important role. Super specialty hospital has been constructed in record time, for this he praised all concerned and said that this is a big achievement for Indore. He said that a new chapter of development is being written under the leadership of Prime Minister Shri Narendra Modi. This process of development will continue continuously. The country is being made self-sufficient and empowered.

 Water Resources Minister Shri Tulsiram Silavat said that excellent works have been done to control the global epidemic of Corona in the state. Indore has also become a major hub of health with education. He said that this hospital should be developed as an ideal hospital in Indore.

 MP Shri Shankar Lalwani said that today is a day of glory for Indore when Super Specialty Hospital is being inaugurated. This is a big achievement for Indore. Under the leadership of the Chief Minister, remarkable work was done to deal with Corona. He stated the need to upgrade MY Hospital. He said that post graduation institute PGI is required in the field of medical education in Indore.

 Chief Minister Shri Chouhan inaugurated super specialty hospital by cutting lace. After this, he also visited the hospital. He also inquired about the medical facilities provided in the hospital.

 Sero survey report was released at the event by the guests. Commissioner Indore division Dr. Pawan Kumar Sharma gave presentation of sero survey report. Dr. Sharma informed that a sero survey was conducted in Indore city from August 11 to August 23. In this survey, 7 thousand 103 samples were taken on random basis in all 85 wards of Indore city. The samples were checked. Based on this, the report has been received. The city was found to have 7.72 percent antibodies. This shows that the control rate in Indore is good. There needs to be more vigilance and security ahead. MLA Mr. Akash Vijayvargiya gave a welcome address in the beginning.

 In the program, Commissioner Medical Education Shri Nishant Varvade gave introduction and description of the project. At the end of the program, Dr. Jyoti Bindal, Dean of MGM Medical College, expressed her gratitude. MLAs Mr. Mahendra Hardia, Mrs. Malini Gaur, Mr. Ramesh Mendola, Mr. Krishnamurari Moghe, Mr. Gaurav Randivee, Mr. Rajesh Sonkar, Mr. Sudarshan Gupta, Mr. Madhu Verma and other senior citizens and other senior citizens were present.