मध्यप्रदेश में कक्षा 12वी के छात्र छात्राओं को ₹25,000 देने की मुख्यमंत्री ने की घोषणा


शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए माध्यमिक शिक्षा मंडल मध्यप्रदेश द्वारा आयोजित 12वीं की मुख्य परीक्षा में उत्कृष्टता प्रदर्शित करने वाले विद्यार्थियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा। योजना का लाभ नियमित एवं स्वाध्यायी दोनों प्रकार के विद्यार्थियों को दिया जाएगा।
मध्यप्रदेश के मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप प्रदाय करने की योजना पुनः प्रारंभ की जा रही है। इसके अंतर्गत सरकार द्वारा मेधावी विद्यार्थियों को लैपटॉप क्रय करने के लिए रु. 25 हज़ार की प्रोत्साहन राशि एवं प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाएगा।


फेल विद्यार्थी निराश न हो - मुख्यमंत्री चौहान
"रूक जाना नहीं"; योजना में पुन: मिलेगा अवसर

मुख्यमंत्री ने कहा कि माध्यमिक शिक्षा मण्डल की 2020 परीक्षा में अनुत्तीर्ण विद्यार्थी निराश न हो। उनके लिये 'रूक जाना नहीं' योजना लागू की गई है। इस योजना में अनुत्तीर्ण विद्यार्थियों को पुन: परीक्षा देने का अवसर दिया जाएगा। योजनान्तर्गत पात्र विद्यार्थी कक्षा 10 के लिये 28 जुलाई और कक्षा 12 के लिये 5 अगस्त तक एम.पी. ऑनलाइन कियोस्क के माध्यम से अथवा स्वयं ऑनलाइन निर्धारित शुल्क जमा कर परीक्षा के लिये पंजीयन करा सकेंगे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि योजना माध्यमिक शिक्षा के ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने वर्ष 2018 की 'रूक जाना नहीं' योजना के अंतर्गत कक्षा 10वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है परंतु वह कक्षा 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित नहीं हो सकें है, वे भी योजना का लाभ उठाकर अगस्त माह में होने वाली परीक्षा में शामिल हो सकते है। परीक्षा प्रश्न-पत्र मध्यप्रदेश माध्यमिक शिक्षा मंडल के पाठ्यक्रम अनुसार ही होंगे तथा केवल अनुत्तीर्ण विषयों की ही परीक्षा देनी होगी।

'रूक जाना नहीं' योजना में यह भी प्रावधान है कि यदि किसी कारणवश परीक्षार्थी माह अगस्त 2020 की परीक्षा में उत्तीर्ण नहीं हो पाते तो वे शेष अनुत्तीर्ण विषयों की परीक्षा माह दिसम्बर 2020 में दे सकते है। इसके लिये उन्हें पुन: अपना पंजीयन एम.पी. ऑनलाइन पर करवाना होगा। इस प्रकार विद्यार्थियों को दूसरा अवसर भी प्रदान किया जायेगा।


जुलाई 2020 में आयोजित प्रथम चरण की परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले परीक्षार्थी को ही कक्षा 11वीं में नियमित प्रवेश की पात्रता होगी। द्वितीय चरण में उत्तीर्ण विद्यार्थियों को कक्षा 11वीं में नियमित प्रवेश नहीं मिलेगा। परंतु वे वर्ष 2022 के जून माह में रूक जाना नहीं योजना अंतर्गत 12वीं की परीक्षा में सम्मिलित हो सकेंगे।

Class 12th Open result Click Here



रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें
 


For the academic session 2019-20, students who have excelled in the 12th main examination conducted by the Board of Secondary Education Madhya Pradesh will be given the benefit of this scheme.  The benefit of the scheme will be given to both regular and self-taught students.


 The scheme of supplying laptops to the meritorious students of Madhya Pradesh is being started again.  Under this, the meritorious students by the government to purchase laptops for Rs.  Incentives and citation of 25 thousand will be provided.

Failed students should not be disappointed - Chief Minister Chauhan
 "Don't Stop";  There will be an opportunity again in the plan

 The Chief Minister said that the students who failed in the 2020 examination of the Board of Secondary Education should not be disappointed.  For them, 'Stop going no' scheme has been implemented.  Students failing in this scheme will be given the opportunity to take the exam again.  Under the scheme, the eligible students got M.P. till 28 July for class 10 and 5 August for class 12.  You will be able to register for the examination through online kiosks or by depositing the prescribed fee online.

 Chief Minister Shri Chouhan informed that those students of the scheme Secondary Education who have passed the Class 10 examination under the 'Stop Ruk Jaana' scheme of the year 2018, but they could not appear in the Class XII examination, they too, by taking advantage of the scheme  May be included in the examination to be held in the month of August.  The examination question papers will be according to the syllabus of Madhya Pradesh Board of Secondary Education and only the failed subjects will have to be taken.

 The 'Stop not to go' scheme also provides that if for some reason the candidates are not able to pass the month of August 2020, then they can give the remaining unsuccessful subjects in the month of December 2020.  For this, he again got his registration M.P.  Will have to be done online.  In this way, students will also be given a second chance.


 Only the candidates who have passed the first stage examination held in July 2020 will be eligible for regular admission in class 11th.  Students who passed in the second phase will not get regular admission in class 11th.  But they will not be able to stop in June of 2022, they will be able to appear in the 12th examination under the scheme.




Class 12th Open result Click Here
 

रिजल्ट देखने के लिए यहां क्लिक करें