फाइनल एग्जाम पर आज सुनवाई करेगा सुप्रीम कोर्ट
 
यूनिवर्सिटी के फाइनल एग्जाम पर यूजीसी ने दाखिल किया जवाब ।



 यूजीसी ने यूनिवर्सिटी के फाइनल एग्जाम पर सुप्रीम कोर्ट में गुरुवार को अपना जवाब दाखिल कर दिया । उसने इसमें कहा है कि फाइनल ईयर की परीक्षाएं 30 सितंबर तक आयोजित कराने का मकेसद छात्रों का भविष्य संभालना है , ताकि उनकी अगले साल की पढ़ाई में देर न हो । इस मामले मेंअब शुक्रवार को सुनवाई होगी । पिछली सुनवाई में देश भर के विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर परीक्षा करवाने को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर सुप्रीम कोर्ट ने यूजीसी से जवाब मांगा था । कोर्ट में दायर याचिकाओं में कोरोना को लेकर छात्रों के स्वास्थ्य के मद्देनजर परीक्षा आयोजित न करने की दरख्वास्त की गई है । याचिकाओं में 6 जुलाई को जारी किए गए यूजीसी दिशानिर्देशों को रद्द करने के लिए सुप्रीम कोर्ट से निर्देश जारी करने की मांग की गई है । 6 जुलाई को यूजीसी ने सभी विश्वविद्यालयों और कॉलेजों को 30 सितंबर तक अंतिम वर्ष की परीक्षाएं आयोजित करने का निर्देश दिया था।
मध्यप्रदेश में भी फाइनल ईयर एवं अंतिम सेमेस्टर के छात्र छात्राओं द्वारा जनरल प्रमोशन की मांग लगातार उठ रही है
विद्यार्थियों का कहना है कि यदि ऑनलाइन एग्जाम होते हैं तो सभी छात्र छात्राएं ऑनलाइन एग्जाम देने की क्षमता नहीं रखते साथ ही हमारे सिलेबस कंप्लीट नहीं हुए हैं
और यदि घर से लिखकर कॉपियों को जमा करना है तो फिर परीक्षा लेने का मतलब ही क्या है जब घर से लेकर जमा करेंगे
छात्र-छात्राओं की मांग है कि अन्य कक्षा के विद्यार्थियों की तरह अंतिम वर्ष के विद्यार्थियों को भी जनरल प्रमोशन दिया


Supreme Court will hear hearing on final exam today
 UGC filed reply on the university's final exam.
  The UGC on Thursday filed its reply in the Supreme Court on the university's final exam.  It has said in it that the aim of the students to hold the final year examinations by September 30 is to manage the future of the students, so that their next year's studies are not delayed.  The matter will now be heard on Friday.  In the previous hearing, the Supreme Court had sought a response from the UGC on the petitions challenging the final year examination in universities across the country.  Petitions filed in the court have requested not to conduct the examination in view of the health of the students regarding the corona.  The petitions have sought a direction from the Supreme Court to cancel the UGC guidelines issued on 6 July.  On 6 July, the UGC directed all universities and colleges to conduct final year examinations by 30 September.
 In Madhya Pradesh too, the demand for general promotion by the students of final year and final semester is continuously rising.
 Students say that if there are online exams, then not all students have the ability to give online exams as well as our syllabus has not been completed.
 And if you have to submit copies by writing from home, then what is the meaning of taking the exam when you will collect from home?
 There is a demand of students that, like other students of the class, the final year students were also given general promotion.